बिहार मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना 2022 [Bihar Mukhyamantri Divyang Cycle Yojana] registration, how to apply

Rate this post

बिहार मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना 2022 (आधारिक वेबसाइट, टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर, लाभ, लाभार्थी, आवेदन फॉर्म, रजिस्ट्रेशन, अप्लाई, पात्रता, सूची, स्टेटस, दस्तावेज, ऑनलाइन पोर्टल)  Bihar Mukhyamantri Divyang Cycle Yojana (helpline number, last date, how to apply, benefits, beneficiaries, application form, registration, eligibility criteria, list, status, official website, portal, documents,)

दिव्यांग लोगों की सहायता करने के लिए अब बिहार सरकार एक योजना को शुरू करने जा रही है। जिसका नाम रखा गया है मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना। जिसके चलते बिहार में रहने वाले दिव्यांग व्यक्तियों को सरकार की ओर से फ्री तीन पहिया साइकिल दी जाएगी। इस योजना को सरकार काफी समय पहले शुरू करने वाली थी। लेकिन कुछ बदलावो के कारण इसे शुरू नहीं किया गया। दरअसल पहले जो सरकार की ओर से साइकिल दी जाने वाली थी वो हाथ से चलने वाली थी। लेकिन अब इसमे बदलाव करके इसे बैटरी वाली ट्राईसाइकिल कर दिया गया है। इससे उन लोगों की काफी मदद हो जाएगी। इसके साथ ही कही भी जाने के लिए काफी सहूलियत भी। अगर आप चाहते हैं कि, आपको भी ये ट्राईसाइकिल मिले तो इसके लिए सरकार द्वारा जारी वेबसाइट पर जाकर आवेदन करें। जिसके बारे में पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगी।

Bihar Mukhymantri Divyang Cycle Yojana
Contents hide

बिहार मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना 2022 [Bihar Mukhyamantri Divyang Cycle Yojana]

योजना का नाम मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना
कब हुई शुरूआत 2022
किसके द्वारा शुरू की गई बिहार सरकार
लाभार्थी बिहार के दिव्यांग व्यक्ति
उद्देश्य जरूरतमंद लोगों की मदद करना
आवेदन ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट http://online.bih.nic.in/SWF/SWFTC/Register
हेल्पलाइन नंबर जारी नहीं

मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना को शुरू करने का उद्देश्य

बिहार सरकार द्वारा इस योजना को दिव्यांगो की मदद करने के लिए शुरू किया गया है। इसके तहत उन्हें किसी भी व्यक्ति पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। वो लोग अपना काम स्वंय करना शुरू कर सकते हैं। जो बच्चे पढ़ने के लिए बाहर जाना चाहते हैं वो इसके जरिए आसानी से जा सकते हैं। जिनको नौकरी या अपना खुद का रोजगार शुरू करना है वो भी इसके सहारे ये कर सकते हैं। सरकार ने इसी उद्देश्य के साथ इस योजना को शुरू किया गया है। ताकि इस सभी लोगों को आत्मनिर्भर बनाया जा सके।

मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना के लाभ

  • इस योजना को बिहार सरकार द्वारा शुरू किया गया है। जिसका लाभ वहीं के लोगों को प्राप्त कराया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपकी उम्र 17 साल होनी चाहिए। तभी आप आवेदन कर सकते हैं।
  • अगर आप इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपकी अधिकतम आय 2 लाख होनी चाहिए।
  • आपको बता दें कि, इस योजना का लाभ 60 प्रतिशत दिव्यागों को ही प्राप्त कराया जाएगा।
  • इस योजना से मिलने वाली ट्राईसाइकिल से आप अपना रोजगार भी शुरू कर सकते हैं। जिससे आपकी आर्थिक स्थिति में भी काफी सुधार आएगा।
  • इस योजना में जो सरकार ट्राईसाइकिल लोगों को देगी। उनको इस बात का ध्यान रखना होगा कि, जिस जरूरत के लिए वो दी गई है उसी के लिए वो इस्तेमाल की जाए।

मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना के लिए पात्रता [Eligibility]

  • इस योजना के लिए आपको बिहार का मूल निवासी होना अनिवार्य है। क्योंकि योजना उसी राज्य के लिए शुरू की जा रही है।
  • इस योजना के लिए सरकार एक निर्धारित बजट पेश करने वाली है उसके अंतर्गत ही लोगों को सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।
  • सरकार ने इसको शुरू करने साथ इस बात को सुनिश्चित किया है कि, इसके लिए आवेदन सिर्फ दिव्यांग लोग ही कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना के लिए दस्तावेज [Documents]

  • इस योजना के लिए आपको आधार कार्ड जरूरी होगा। जिससे आपकी सारी जानकारी सरकार के पास जमा हो सके।
  • दिव्यांग प्रमाण पत्र भी जरूरी है। जिससे सरकार के पास ये जानकारी हो की आप दिव्यांग है।
  • जाति प्रमाण पत्र भी आपको आवेदन के समय जमा कराना होगा। ताकि सरकार को ये जानकारी रहे की आप किस जाति के हैंष
  • मूल निवासी प्रमाण पत्र भी जरूरी है। इससे ये जानकारी रहेगी की आप बिहार के ही निवासी हैं।
  • पासपोर्ट साइज फोटो भी आपको अटैच करानी होगी। इससे आपकी पहचान सरकार के पास रहेगी।
  • मोबाइल नंबर भी आप जमा करा सकते हैं। इससे योजना से जुड़ी जानकारी आपको समय रहते मिलती रहेगी।
  • ईमेस आईडी अगर आपके पास है तो आप उसे भी एड कर सकते हैं। इससे मेल पर आपको जानकारी मिल जाएगी।

मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना के लिए आवेदन [Bihar Mukhyamantri Divyang Cycle Yojana Registration]

  • सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के लिए अगर आपको आवेदन करना है तो इसके लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • जैसे ही आप दिए हुए लिंक पर क्लिक करेंगे। आपके सामने वेबसाइट ओपन हो जाएगी। जिसको आपको लॉगिन करना है।
  • वेबसाइट लॉगिन होने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा। जिसपर आपको इस योजना का लिंक दिखाई देगा।
  • आपको दिए हुए लिंक पर क्लिक करना है। जिसके बाद आपके सामने योजना की जानकारी खुल जाएगी।
  • इस जानकारी को आपको सही तरीके से पढ़ना है और उसे भरना है। इस बात का ध्यान रखें की किसी तरह की कोई गलती ना होने पाए।
  • इसके बाद आपको मांगे गए दस्तावेज अटैच करने हैं। जिसको आप स्कैन करके ही लगा सकते हैं।
  • इसके बाद आपके सामने सबमिट का बटन आएगा। जिसको आपको क्लिक करना है और आवेदन सबमिट करना है।

मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना का आधिकारिक वेबसाइट [Bihar Mukhyamantri Divyang Cycle Yojana Official Website]

इस योजना के लिए सरकार की ओर से एक आधिकारिक वेबसाइट http://online.bih.nic.in/SWF/SWFTC/Registerजारी  की है। जिसपर जाकर आप आवेदन कर सकते हैं। जिसके लिए आपको किसी भी सरकारी दफ्तर में जाने की भी जरूरत नहीं होगी। आसानी से आवेदन हो जाएगा।

मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना का हेल्पलाइन नंबर [Bihar Mukhyamantri Divyang Cycle Yojana Helpline Number]

सरकार ने इसके लिए अभी सिर्फ आधिकारिक वेबसाइट जारी की है। हेल्पलाइन नंबर जारी करना बाकी है। वो भी सरकार जल्द ही कर देगी। जिससे उन लोगों का काम आसान हो जाएगा। जिनको ऑनलाइन काम करना नहीं आता। वो इसके जरिए जानकारी भी प्राप्त कर पाएगे।

FAQ

Q-मुख्यमंत्री दिव्यांग साइकिल योजना किसके द्वारा शुरू की जा रही है?

Ans- बिहार सरकार द्वारा इसे शुरू किया जा रहा है।

Q- इस योजना को शुरू करने में क्यो हुई देरी?

Ans- सरकार द्वारा जरूरी बदलावो के कारण इसे शुरू करने में हुई देरी।

Q- इस योजना में मिलने वाली ट्राईसाइकिल कैसी होगी?

Ans- सरकार द्वारा मिलने वाली ट्राईसाइकिल बैटरी वाली होगी। जिसको आसानी से चलाया जा सकेगा।

Q- इस योजना में निर्धारित बजट कितना है?

Ans- इस योजना के निर्धारित बजट के लिए सरकार ने अभी कोई जानकारी साझा नहीं की है।

Q- इस योजना के लिए कहां जाकर कर सकते हैं आवेदन?

Ans- आप सरकार द्वारा जारी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना आवेदन कर सकते हैं।

Other Links-

Sharing Is Caring:

Leave a Comment